प्रभु श्री राम की इस प्रतिमा में भगवान विष्णु के 10 अवतारों को भी दिखाया गया है|

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के जनरल सेक्रेटरी श्री चंपत राय जी ने ट्विटर पर जानकारी दी कि राम मंदिर के नीचे लगाए गए Time capsule की बात सत्य नहीं है|

राम मंदिर का डिजाइन बनाने वाले व्यक्ति का नाम चंद्रकांत सोमपुरा है|

अयोध्या में बना राम मंदिर दुनिया के सबसे बड़े मंदिरों में पांचवें नंबर पर आता है|

राम मंदिर के निर्माण की नींव रखने के लिए 2587 क्षेत्र से पवित्र मिट्टी को लाया गया था|